Happy Women’s Day

माँ भी तू, बेटी भी तू, तू ही बहन, महबूब भी तू|
तू ही दुनिया का आधार है ॥

धुप भी तू , छाँव भी तू, तू ही बिजली, बादल भी तू ।
तू ही ये जहान है ॥

प्रकृति भी तू , आकृति भी तू , तू ही नदी , गंगा की बहती धार भी तू ।
तू ही ये संसार है ॥

अर्जन भी तू , गर्जन भी तू , तू ही धरती, आसमाँ भी तू ।
तू ही सबका आकर है ॥

बिन तेरे मिट जायेगा अस्तित्व सभी का गर हटा ले आँचल अपने प्यार का तू ||

By: – Roshan Singh

सपूत

तेरे सजदे को हम सलाम करते हैं।

तेरे इस जज्बे को हम प्यार करते हैं।।

तुम्हे नमन है बारम्बार हे भारत माँ के सपूतों।

तुम वहाँ तैनात होते हो तो हम यहाँ आराम करते हैं।।

।। रोशन सिंह ।।

Paisa…

पता चलता है अब कितना अहम है पैसा,
ज़िन्दगी में रिश्तों के मायने बदल देता है.
जेब में गर हो ये तो पीने के पैमाने बदल देता है,
टूटे हुए गिलास से पीता था सबब रिश्तों का,
न हो पास में ये तो गिलास भी मयखाने बदल देता है.

BY – रोशन सिंह

Pata chalata hai ab kitna aham hai paisa,
Zindagi me rishton ke maayane badal deta hai.
Jeb me gar ho ye to peene ke paimaane badal deta hai,
Tute huye Gilaas se peeta tha sabab rishton ka,
Na ho paas me ye to gilaas bhi Maykhaane badal deta hai…..

By – Roshan Singh

Learning..

आजकल रोज बारिश में भीग रहा हु मैं ।
ज़िन्दगी के हर मोड़ पे ज़िन्दगी से मिल रहा हु मैं ॥
अपनों से मिले दर्द को छुपाऊ कैसे ।
अश्क़ दिखते ना बारिश में बस यही सीख रहा हु मैं ||

— रोशन सिंह

aajkal roj baarish me bheeg raha hu main,
zindagi ke har mod pe zindagi se mil raha hu main.
apno se mile dard ko chhupaun kaise,
ashq dikhate naa baarish me bas yehi seekh raha hu main.

By – Roshan Singh